शिवसेना नेता प्रताप सरनाईक ने अनव नाइक केस में अर्नब गोस्वामी पर बोला हमला

बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के दुर्भाग्यपूर्ण निधन के बाद, हर पहलू की जांच मुंबई पुलिस द्वारा की जा रही है। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी सुशांत सिंह राजपूत मामले की सीबीआई जांच की सिफारिश की।

इसी बीच ठाणे शिवसेना विधायक प्रताप सरनाईक ने आर्किटेक्ट अन्वय नायक आत्महत्या मामले को उठाते हुए रिपब्लिक टीवी के संस्थापक और पत्रकार अर्णब गोस्वामी पर निशाना साधा है।

शिवसेना के विधायक प्रताप सरनाईक ने महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख को आर्किटेक्ट अन्वय नायक आत्महत्या मामले की फाइल फिर से खोलने के लिए कहा है।

उन्होंने कहा कि रिपब्लिक टीवी के मालिक और संपादक अर्नब गोस्वामी नाइक के सुसाइड नोट में पहले आरोपी हैं।

इस बात की जानकारी वकील सुधीर सूर्यवंशी ने भी अपने ट्विटर अकाउंट से दी है।

विधायक प्रताप सरनाईक ने कहा, "श्री अर्नब गोस्वामी आपको याद दिला दूँ जिस स्टूडियो में बैठकर आप चिल्लाते हैं, उसी स्टूडियो में अन्वय नायक नाम का एक व्यक्ति भी था जिसने स्टूडियो में बहुत सारा काम था। उसे आपने करीब 7 करोड़ रुपए का काम दिया था और पूरे पैसे नहीं दिए थे। जब वह पैसे मांगता था तो आप नकार देते थे।

आखिर मराठी आर्किटेक्ट ने वित्तीय मुद्दों का सामना किया और अपनी माँ के साथ आत्महत्या कर ली।

अन्वय नाइक की पत्नी अक्षता नाइक ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर कर महाराष्ट्र सरकार से न्याय की गुहार लगाई है। उन्होंने आरोप लगाया है कि रायगढ़ पुलिस ने इस मामले की ठीक से जांच नहीं की।

अन्वय नाइक की पत्नी द्वारा की गई FIR में भी अर्णब गोस्वामी समेत तीन लोगों का नाम है जिन्होंने उनके काम के बाद बकाए पैसे नहीं दिए थे।

हालाँकि, अन्वय नाइक द्वारा लिखे गए सुसाइड नोट के आधार पर अर्णब समेत तीनों आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 306 के तहत एफआईआर दर्ज की गई थी लेकिन अब तक अन्वय नाइक को न्याय नहीं मिला है।

सरनाईक ने कहा कि सुसाइड नोट में अगर किसी का नाम हो तो उसकी गिरफ्तारी होनी चाहिए लेकिन अभी तक पुलिस ने उस पर ठीक से जांच नहीं की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

hi_INHindi
en_GBEnglish hi_INHindi
%d bloggers like this: